खुलासा :महापौर विक्रम अहांके फिर मारेंगे पलटी, बीजेपी का करेंगे समर्थन !

छिंदवाड़ा

प्रदेश लोकसभा चुनाव के दौरान कई नेताओं ने कांग्रेस छोड़ भारतीय जनता पार्टी में पलायन किया था. जिसके कारण वे सुर्खियों में बने रहे. खासतौर पर छिंदवाड़ा में कई नेताओं ने कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थामा था. इन्हीं में से महापौर विक्रम अहांके भी थे. जिन्होंने कांग्रेस छोड़ भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया था, लेकिन वोटिंग के दिन उन्होंने पाला पलटते हुए कांग्रेस को वोट देने की अपील की थी. जिसके बाद राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई थी. अब जब कांग्रेस छिंदवाड़ा लोकसभा चुनाव हार चुकी है. ऐसे में उनको लेकर एक बार फिर अटकलों का बाजार गर्मी है. कि क्या वे फिर से भारतीय जनता पार्टी में आने वाले हैं? इसको लेकर विवेक बंटी साहू ने खुलासा किया है.

क्या बोले विवेक बंटी साहू?

विवेक बंटी साहू ने बताया कि "विक्रम अहाके मुझसे मिलने आए थे. उन्होंने मुझे बधाई दी हैं. उनका कहना था कि मैं छिंदवाड़ा के विकास में आप लोग जहां मेरी भूमिका तय करिए छिंदवाड़ा के विकास में आपका साथ देना चाहता हूं."

उन्होंने आगे कहा "विक्रम अहाके मेयर हैं. आदिवासी समाज से हैं. हम भी उनका सम्मान करते हैं. और आगे वरिष्ठ नेताओें से बातचीत करके फिर उनके आने पर निर्णय लेंगे. विवेक बंटी साहू की माने तो विक्रम अहाके के लिए अभी भी बीजेपी के दरवाजे खुले हुए हैं." अब देखना होगा कि विक्रम पलटी मारते हैं या फिर कांग्रेस में रहकर ही कमलनाथ का साथ देते हैं. 

admin

Related Posts

योग को दिनचर्या का अभिन्न अंग बनाने की अपील की

भोपाल उप मुख्यमंत्री श्री राजेंद्र शुक्ल ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने योग को विश्व स्तर पर पहचान दिलाने के लिए महत्वपूर्ण कदम…

पीडीए ने ध्वस्त किया अशरफ की पत्नी जैनब के आलीशान मकान

प्रयागराज उमेश पाल हत्याकांड में कई महीनों के बाद माफिया अतीक अहमद के कुनबे के मकान पर फिर बुलडोजर गरजा है। यह कार्रवाई माफिया अतीक अहमद के भाई खालिज अजीम…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

धर्म

कलियुग के 10,000 वर्षों के बाद क्या होगा? ब्रह्मवैवर्त पुराण की भविष्यवाणियां

कलियुग के 10,000 वर्षों के बाद क्या होगा? ब्रह्मवैवर्त पुराण की भविष्यवाणियां

आषाढ़ में कब रहेगी गुप्त नवरात्रि, जाने महत्व और पूजा विधि

आषाढ़ में कब रहेगी गुप्त नवरात्रि, जाने महत्व और पूजा विधि

गुरुवार 20 जून 2024 का राशिफल

गुरुवार 20  जून 2024 का राशिफल

जुलाई में इस दिन से शुरू होंगे शुभ मुहूर्त, कर सकेंगे जनेऊ, मुंडन, गृह प्रवेश; सिर्फ 8 दिन बजेगी शहनाई

जुलाई में इस दिन से शुरू होंगे शुभ मुहूर्त, कर सकेंगे जनेऊ, मुंडन, गृह प्रवेश; सिर्फ 8 दिन बजेगी शहनाई

सपने में मृत्यु देखना: क्या है इसका मतलब? जानें विस्तार से

सपने में मृत्यु देखना: क्या है इसका मतलब? जानें विस्तार से

बुधवार 19 जून 2024 का राशिफल

बुधवार 19 जून 2024 का राशिफल