सुपरस्टार दर्शन तुगुदीपा ने गिरफ्तारी के बाद रेणूका स्वामी की हत्या करना पुलिस के सामने कबूल किया

मुंबई

साउथ की फिल्मों के सुपरस्टार दर्शन तुगुदीपा ने गिरफ्तारी के बाद पुलिस के सामने कबूल किया है कि उसने रेणूका स्वामी की हत्या के इस मामले को दबाने के लिए आरोपियों को 30 लाख रुपये दिए थे. यह बात पहले ही पकड़े जा चुके सुपारी किलर्स ने पुलिस को पूछताछ के दौरान बताई थी. अब दर्शन के बयान ने इस बात की तस्दीक कर दी है.

पुलिस की जीप से नहीं जाना चाहता था दर्शन
यही नहीं, जब दर्शन को मैसूर से गिरफ्तार किया गया, तो उसने पुलिस से कहा कि वह अपनी कार से पुलिस थाने जाएगा और पुलिस की जीप में नहीं बैठेगा. हालांकि पुलिस ने उसकी बात नहीं मानी और उससे कहा कि अगर वो उनके साथ पुलिस की जीप में नहीं बैठा तो उसे पुलिस के गुस्से का सामना करना पड़ेगा.

आपत्तिजनक कमेंट ने बना दिया कातिल
दर्शन का सुपर फैन रेणुका स्वामी चित्रदुर्ग की अपोलो फॉर्मेसी काम करता था. क्या आप यकीन करेंगे कि सोशल मीडिया पर उसके एक आपत्तिजनक कमेंट ने ही कन्नड़ सुपरस्टार दर्शन तुगुदीपा और उसकी पार्टनर पवित्रा गौड़ा को अपने उस फैन का कातिल बना दिया? दर्शन और पवित्रा के फैन रेणुका स्वामी ने आखिर इंस्टा पर ऐसा क्या लिख दिया था कि कन्नड़ फिल्मों की ये स्टार जोड़ी खुद पर काबू नहीं रख सकी और दोनों ने मिल कर अपने एक गुमनाम फैन के खून से अपने हाथ रंग लिए? आपको ये सबकुछ बताएंगे. लेकिन पहले ये जान लीजिए कि आखिर इस फैन के कत्ल की साज़िश कैसे रची गई और उसके लिए दर्शन और पवित्रा ने अपने गुर्गों को कितने की सुपारी दी?

पवित्रा को फेक आईडी से किए गंदे मैसेजेस
सोशल मीडिया पर किए गए आपत्तिजनक कमेंट्स सीधे दर्शन की पार्टनर और पत्नी पवित्रा गौड़ा को मिल रहे थे, जो पवित्रा को नागवार गुज़रे. पवित्रा ने ना सिर्फ इस बात की शिकायत दर्शन से की, बल्कि कमेंट्स करने वाले आदमी को सबक सिखाने के लिए भी उकसाया. बस, फिर क्या था किसी फिल्म के विलेन की तरह दर्शन ने अपने लोगों को काम पर लगा दिया और कमेंट करने वाले उस शख्स की पहचान पता करने का हुक्म दिया. असल में ये चित्रदुर्ग का रहनेवाला एक साधारण सा नौजवान रेणुका स्वामी था, जो अपोलो फार्मेसी में काम करता था. और यही रेणुका, पवित्रा को एक फेक आईडी से इंस्टाग्राम पर गंदे मैसेजेस भेज रहा था.

बेरहमी से रेणुका का कत्ल
रेणुका स्वामी की पहचान साफ हो जाने पर दर्शन ने बेंगलुरु से करीब 200 किलोमीटर दूर चित्रदुर्ग के रहने वाले इस नौजवान को पकड़ने का काम अपने एक गुर्गे राघवेंद्र को सौंपा, जो चित्रदुर्ग में दर्शन के नाम से फैंस क्लब चलाता है. और बस इसी के बाद राघवेंद्र ने पहले धोखे से 8 जून को रेणुका को अगवा किया और फिर अगले दिन यानी 9 जून को बेंगलुरु के ही कामाक्षीपाल्या इलाके के एक गंदे नाले से रेणुका की लाश मिली. इस बीच रेणुका स्वामी को दर्शन-पवित्रा और उनके गुर्गों ने इतनी बुरी तरह टॉर्चर किया कि उसकी जान ही चली गई.

गर्म लोहे से दागा, तोड़ दी थीं जिस्म की हड्डियां
रेणुका के साथ मारपीट हुई तो ही, उसे गर्म लोहे से भी दागा गया. खुद दर्शन ने पहले उसे पवित्रा के सामने ही बेल्ट से जी भर कर पीटा और जब लगातार चल रही पिटाई से वो बेहोश हो गया, तो फिर उसकी हत्या कर दी गई. पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों ने पाया कि रेणुका के शरीर की कई हड्डियां इस मारपीट से टूट गई थीं और दीवार से टकराने के चलते उसके स्कल यानी खोपड़ी में भी फ्रैक्चर था.

सुपारी किलर्स ने दर्शन से मांगे थे 30 लाख
बेंगलुरु के एक शेड में जहां रेणुका स्वामी की हत्या की गई, वहां से दर्शन पहले ही निकल गया था. लेकिन जाते-जाते उसने अपने गुर्गों को रेणुका की हत्या करने का हुक्म दे दिया. दर्शन के जाने के बाद भी रेणुका स्वामी को टॉर्चर किए जाने का सिलसिला चलता और इसके कुछ देर बाद उसकी जान चली गई. जिसके बाद दर्शन के एक गुर्गे प्रदोश ने व्हाट्स एप पर दर्शन को रेणुका स्वामी की मौत हो जाने की खबर दी और सबकुछ मैनेज करने के लिए 30 लाख रुपये मांगे, जिस पर दर्शन ने हामी भर दी.

5 लाख के बदले सिर लिया इल्जाम
चूंकि इस मामले से दर्शन और पवित्रा खुद को अलग ही रखना चाहते थे, उन्होंने राघवेंद्र कार्तिक और केशवमूर्ति को रेणुका स्वामी के क़त्ल का इल्ज़ाम अपने सिर पर ले लेने की बात कही और बदले में 5 लाख रुपये देने का वादा किया. इसी बातचीत और दावे के मुताबिक जब रेणुका की लाश बरामद हुई तो तीनों बेंगलुरु के अन्नपूर्णेश्वरी नगर पुलिस स्टेशन पहुंचे और केस को घुमाने के लिए झूठी कहानी सुना दी. तीनों ने बताया कि उनका रेणुका स्वामी के साथ रुपये पैसों की लेन-देन को लेकर विवाद चल रहा था, जिसके चलते उन्होंने रेणुका ही हत्या कर दी.

ऐसे निशाने पर आया सुपर स्टार दर्शन
लेकिन पुलिस ने इन कातिलों के बयान पर आंख मूंद कर यकीन करने की जगह उनके दावे की तस्दीक करने का फैसला किया. मनीट्रेल तो चेक किया ही, जिससे ये पता चले कि लेन-देन का मामला था भी या नहीं, तीनों के मोबाइल फोन की सीडीआर भी चेक की. पुलिस को रेणुका के साथ कातिलों के रुपये-पैसे की लेन-देन के सबूत तो नहीं मिले, लेकिन सीडीआर की जांच से पता चल गया कि उनकी फिल्म स्टार दर्शन से पिछले कुछ दिनों से लगातार और कई-कई बार बातचीत हो रही है. यहां तक कि कुछ लोकेशन पर सबके मोबाइल फोन एक साथ नजर आए. बस यहीं से दर्शन भी जांच के घेरे में आ गया और जल्द ही पूरी कहानी साफ हो गई.

कमेंट्स ही बने रेणूका स्वामी की मौत की वजह
अब बात इंस्टाग्राम पर किए गए रेणुका स्वामी के उस कमेंट्स की, जो उसके लिए जानलेवा साबित हुई. असल में रेणुका ने फेक आईडी से पवित्रा को एक जगह लिखा कि आखिर दर्शन सर तुम्हारे से साथ ट्रैवल क्यों नहीं कर रहे हैं. वो तो अक्सर अपनी पत्नी विजय लक्ष्मी के साथ नजर आते हैं. असल में दर्शन पहले से शादीशुदा होने के बावजूद पवित्रा के साथ पिछले कई सालों से रिश्ते में हैं, जिसे लेकर विवाद होता रहा है. और दर्शन के कई फैंस भी इससे अपसेट रहते हैं. रेणुका भी उन्हीं फैंस में से एक था, लेकिन दर्शन और पवित्रा की निजी जिंदगी में झांकने में वो थोड़ा ज्यादा आगे निकल गया. और आपत्तिजनक कमेंट्स करने लगा. हालांकि उसके इन आपत्तिजनक कमेंट्स पर कुछ फैंस ने सोशल मीडिया पर ही रेणुका स्वामी को लताड़ भी लगाई, लेकिन पवित्रा को ये बातें कुछ इतनी ज्यादा चुभ गई कि उसने दर्शन से इस आदमी की पहचान कर उसे सबक सिखाने की जिद पकड़ ली और बस यहीं से रेणुका की मौत का परवाना जारी हो गया.

रेणूका की पत्नी ने की राघवेंद्र की पहचान
सीसीटीवी में कैद ये तस्वीरें रेणुका स्वामी के जीते जी आखिरी तस्वीरें हैं, जो चित्रदुर्ग के अपोलो फार्मेसी में कैद हुई हैं, जहां रेणुका काम किया करता था. 8 जून के बाद फिर किसी ने उसे जिंदा नहीं देखा. हालांकि छानबीन के दौरान रेणुका स्वामी की पत्नी शहाना ने पुलिस को बताया कि ये राघवेंद्र ही था, जो उसके पति रेणुका स्वामी को अपने साथ ले गया था. यानी रेणुका स्वामी की पत्नी ने उसे अगवा करने वाले दर्शन के गुर्गे और फैंस क्लब के चीफ राघवेंद्र की भी पहचान कर ली है.

पवित्रा फर्स्ट जबकि दर्शन सेकंड आरोपी
दर्शन ने अपने ही फैन रेणुका स्वामी का क़त्ल यूं ही नहीं किया, बल्कि पुलिस की मानें तो उसे उसकी दूसरी पत्नी पवित्रा ने ही इस काम के उकसाया था. यही वजह है कि पुलिस ने एक फैन के क़त्ल के इस मामले में पवित्रा को फर्स्ट जबकि फिल्म स्टार दर्शन को सेकंड एक्यूज्ड बनाया है. यानी दूसरा आरोपी. तफ्तीश में इस कत्ल को लेकर जो डिटेल सामने आई हैं, वो सिहरन पैदा करने वाली हैं.

सुदर्शन का डाई-हार्ड फैन था रेणूका स्वामी
एक्टर दर्शन तुगुदीपा की कर्नाटक में अच्छी खासी फैन-फोलोइंग हैं. लोग उसे कॉपी करते हैं, उसकी तरह चलने बोलने की कोशिश करते हैं. कर्नाटक के ही चित्रदुर्ग का रहने वाला रेणुका स्वामी भी उन्हीं लोगों में से एक था, जो दर्शन को बेइंतहा चाहता था. यानी एक डाई-हार्ड फैन. लेकिन अपने हीरो के लिए उसकी ये दीवानगी ही उसकी मौत की वजह बन गई.

सोशल मीडिया पर पवित्रा की खिंचाई करता था रेणूका स्वामी
असल में दर्शन पहले से शादीशुदा और बाल बच्चेदार होने के बावजूद पवित्रा के साथ रिलेशन में था. जिसे लेकर उसके कई फैन उससे शिकायत भी करते थे. हालांकि दर्शन और पवित्रा ने कभी इस ओर ध्यान नहीं दिया. लेकिन रेणुका स्वामी दर्शन के उन फैंस में था, जो हर बार दर्शन के साथ संबंधों को लेकर पवित्रा की खिंचाई किया करता था. पुलिस की मानें तो पवित्रा जब भी सोशल मीडिया पर दर्शन के साथ कोई फोटो या वीडियो डालती या फिर कोई रील शेयर करती, रेणुका फेक आईडी से उसके पोस्ट्स में कमेंट किया करता था. तकरीबन हर कमेंट में पवित्रा को इस बात के लिए लानत भेजा जाता कि वो शादीशुदा दर्शन की जिंदगी में जबरन आ गई, जबकि दर्शन की अपनी फैमिली है. कई बार तो रेणुका बहुत की आपत्तिजनक बातें भी लिखता था. और रेणुका की यही आदत उसकी मौत की वजह बन गई.

रेणूका के साथ हद दर्जे की दरिंदगी
पुलिस सूत्रों की मानें तो रेणुका ने पहले भी कई बार पवित्रा गौड़ा के खिलाफ आपत्तिजनक बातें लिखीं और उसे दर्शन की जिंदगी से दूर चले जाने को कहा. और आखिरकार पवित्रा ने इसे लेकर दर्शन के बात की और दर्शन ने रेणुका का क़त्ल करने का फैसला कर लिया. रेणुका स्वामी की लाश का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों ने बताया है कि आरोपियों ने रेणुका स्वामी को सजा देने के लिए उसकी नाक, जीभ और जबड़े को भी काट डाला था. यानी उसके खिलाफ बर्बरता की सारी हदों से आगे निकल गए थे.

दर्शन का पत्नी के साथ विवाद
दर्शन चंदन की लकड़ी का कारोबार करने के साथ-साथ कन्नड़ फिल्मों का सुपर स्टार है. वैसे तो दर्शन पहले से ही शादीशुदा था, लेकिन पिछले कुछ सालों से एक्ट्रैस पवित्रा के साथ उसकी नजदीकियों ने लोगों का ध्यान खींचा. और तो और जब पवित्रा ने सोशल मीडिया पर दोनों के रिश्तों को लेकर खुल्लम खुल्ला ऐलान करना शुरू कर दिया, तो जहां चर्चाओं का बाज़ार गर्म हो गया, वहीं दर्शन की अपनी पहली पत्नी के साथ भी विवादों की शुरुआत हो गई.

दर्शन का विवादों से पुराना नाता
मामला कानून की चौखट तक भी पहुंचा था. इस पहले अपनी एक मूवी क्रांति के प्रोमोशन के दौरान भी दर्शन ने हिंदू धर्म के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, जिसका लोगों ने पुरजोर विरोध किया था. यहां तक कि भीड़ में एक बार दर्शन पर चप्पल भी फेंकी गई थी. यानी दर्शन कत्ल के मामले में बेशक पहली बार गिरफ्तार हुआ हो, लेकिन विवादों से और कानून तोड़ने से उसका पुराना नाता रहा है.

..और बढ़ेंगी दर्शन की मुश्किलें
हत्या के आरोप में गिरफ्तार कन्नड़ अभिनेता दर्शन की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं, क्योंकि उन पर कर्नाटक के टी नरसीपुरा में अपने फार्महाउस में अवैध रूप से एक विदेशी पक्षी बार-हेडेड गूज रखने का इल्जाम भी लगा है. दर्शन के खिलाफ पहले भी एफआईआर दर्ज की गई थी और अब वन विभाग इस मामले को फिर से उठा सकता है, क्योंकि अभिनेता फिलहाल पुलिस की हिरासत में है. कर्नाटक के पर्यावरण और वन मंत्री ईश्वर खंड्रे ने कानून से परे जाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की कसम खाई.

admin

Related Posts

एक्टर कृष्ण कुमार की बेटी टिशा का 20 साल की उम्र में निधन, हारी कैंसर से जंग

मुंबई एक्टर-प्रोड्यूसर कृष्ण कुमार की बेटी टिशा कुमार का 20 साल की उम्र में निधन हो गया है. टी-सीरीज के सीईओ भूषण कुमार की कजिन, टिशा ने 18 जुलाई को…

मुझे ड्रग्स देकर रेप करता था, पायल को भी… वायरल FIR में अरमान पर हैं ये आरोप

मुंबई बिग बॉस ओटीटी 3 कंटेस्टेंट अरमान मलिक के रेप केस का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। सोशल मीडिया पर काफी दिनों से कानूनी कार्यवाही के कुछ डॉक्यूमेंट्स वायरल…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

धर्म

20 जुलाई शनिवार को इन राशियों में दिखेगा लाभ

20 जुलाई शनिवार को इन राशियों में दिखेगा लाभ

19 जुलाई शुक्रवार को इन राशियों में दिखेगा लाभ

19 जुलाई शुक्रवार को इन राशियों में दिखेगा लाभ

18 जुलाई गुरुवार को इन राशियों में दिखेगा लाभ

18 जुलाई गुरुवार को इन राशियों में दिखेगा लाभ

आज से चातुर्मास शुरू? अगले 4 महीने बंद रहेंगे शुभ-मांगलिक कार्य, जानें जरूरी नियम

आज से चातुर्मास शुरू? अगले 4 महीने बंद रहेंगे शुभ-मांगलिक कार्य, जानें जरूरी नियम

देवशयनी एकादशी: पद्म पुराण में विष्णु शयन मंत्र

देवशयनी एकादशी: पद्म पुराण में विष्णु शयन मंत्र

17 जुलाई बुधवार को इन राशियों में दिखेगा लाभ

17 जुलाई बुधवार को इन राशियों में दिखेगा लाभ